आठ प्रकार की जड़ीबूटियों से निर्मित “अष्टगंध बॉडी लोशन”

 !! अमृतम !!
   हर्बल अष्टगन्ध
      (केशर, चन्दन, एलोवेरा युक्त)
एक खुशबूदार आयुर्वेदिक बॉडी लोशन 
    प्राकृतिक रूप से त्वचा में निखार लाने के लिए उपयोगी।

आठ प्रकार की जड़ीबूटियों से निर्मित

“अष्टगंध बॉडी लोशन” एक खास तरह का केशर ,चन्दन युक्त वैदिक उत्पाद है जिसे
आठ तरह की प्राकृतिक ओषधियों (नेचुरल हर्ब्स)

और सुगन्धित द्रव्यों

 को मिलाकर बनाया जाता है।

अमृतम अष्टगंध बॉडी लोशन 

में मिलाये गए”8″ घटक निम्नांकित हैं-

१ – मलयागिरि चन्दन  Chandan
(Santalu Album),
२ – घृतकुमारी  Aloe Vera (Aloe Indica),

३ – हल्दी  Turmeric (Curcuma Longa),
४ – रक्त या लाल चंदन    Rakta Chandan (Pterocarpus Santalinus),
५ – खस-खस  Khus Khus
(Chrysopogon Zizanioides),
६ – चिरौंजी  Chironji
(Buchanania Lanzan),
७ – केशर या कुमकुम  Kesar
(Saron Crocus),
८ – शुद्ध मधु या शहद  Honey

अमृतम अष्टगंध बॉडी लोशन 

सुंदरता निखारने में सहायक है

खिली-खिली , खूबसूरतऔर जवां नज़र आने के लिए अपने रूप को निखारिए
अमृतम हर्बल अष्टगंध बॉडी लोशन”   केे साथ

आदिकाल से ही अष्टगन्ध लगाने की परंपरा चल रही है। रानी हों या महारानी  गोरा बनने और तन की प्राकृतिक सुन्दरता बढ़ाने  के लिए अष्टगंध बॉडी लोशन का उपयोग करती थीं।
इसमें मिलाई गई बहुमूल्य ओषधियाँ
आकर्षण वृद्धि में अत्यंत सहायक हैं।

[] — स्वस्थ्य-तंदरुस्त और स्वयम को हमेशा फिट (Fit) बनाये रखने में “अष्टगंध बॉडी लोशन” बहुत कारगर होता है।
[] – अमृतम हर्बल “अष्टगंध बॉडी लोशन”का प्रयोग चुस्ती-स्फूर्ति तथा गजब की
सुन्दरता बढ़ाने में बहुत ही लाभकारी है।
[] – विशेष रूप से चेहरे एवं शरीर में निखार लाने के लिए अष्टगंध का प्रयोग  वर्षों से दादी-नानी सभी आजमाते रहे हैं।

[] – अमृतम अष्टगंध के उपभोग से रूखी-सुखी त्वचा (डेड स्किन) में खोया हुआ निखार वापस लौट आता है ।

आयुर्वेद के प्रसिद्ध एवं पुराने ग्रन्थ “भावप्रकाश निघण्टु”

और शंकर निघण्टु के अनुसार
[] – केशर , रक्तचंदन रंग साफ कर त्वचा (स्किन) को चमकदर बनाती है।
[] – चिरौंजी – मरी हुई खाल (डेड स्किन) की सूक्ष्म क्षिद्रों को क्रियाशील बनाती है।

[] – इसमें मिलाया गया एलोवेरा सूर्य के रोशनी के असर से स्किन को बचाता है।
[] – खस-खस आयुर्वेद की बहुत खास दवा है , जो त्वचा में शीतलता प्रदान करती है।

आठ सुगन्धित द्रव्य जिनको मिलाकरअमृतम हर्बल अष्टगंघ बॉडी लोशन बनाया जाता है है वे सब घटक आयुर्वेद में  दिव्य जड़ी-बूटियाँ कही जाती हैं।

[] – प्रतिदिन अष्टगंध बॉडी लोशन पूरे शरीर में लगाने से स्किन सॉफ्ट हो जाती है।
[] – यह रूखी या तेलीय त्वचा दोनों के लिए उपयोगी है

अन्य फायदे-

प्रतिदिन अष्टगंध बॉडी लोशन लगाने से आकर्षण एवं खूबसूरती , तो बढ़ती है ही, साथ मेंमस्तिष्क और नाडिय़ों रक्त का संचार सुचारू होने से मानसिक सुकून मिलता है। 
यह पूर्णतः हानिरहित निरापद हर्बल योग है।
तन के हर अंग के लिए भी यह हितकारी है।

उपयोग का तरीका–

स्नान (नहाने) के बाद पूरे शरीर में हल्के हाथों से लगावें।

RELATED ARTICLES

Talk to an Ayurvedic Expert!

Imbalances are unique to each person and require customised treatment plans to curb the issue from the root cause fully. We recommend consulting our Ayurveda Doctors at Amrutam.Global who take a collaborative approach to work on your health and wellness with specialised treatment options. Book your consultation at amrutam.global today.

Learn all about Ayurvedic Lifestyle