सभी 8 प्रकार के गुप्त रोगों को मिटाने वाली 100% आयुर्वेदिक ओषधि | How to increase sex power

 पाएं भरपूर जोश और जवानी | How to increase sex power as per Ayurveda

सभी 8 प्रकार के गुप्त रोगों को मिटाने वाली 100% आयुर्वेदिक ओषधि
How To Increase Sex Power
प्रतिस्पर्धा के  इस भौतिक युग में भागम-भाग  और तनाव भरा जीवन तथा अनियमित दिनचर्या एवं  अनुचित आहार या अस्वाथ्यकर खानपान की वजह से अधिकांश पुरुषों व कम उम्र की युवा पीढ़ी में जवानी के आने के पहले
◆ कामोत्तेजना में कमी,
◆ यौन कमजोरी (sexual weakness) या
 सीधा होने वाली अक्षमता (ईडी) (erectile dysfunction (ED)) रखने या बनाए रखने में असमर्थता (inability ),
 एक निर्माण (erection), की समस्या आजकल आम है।
एक सर्वे के मुताबिक देश-दुनिया में 29 फीसदी लोगों का वैवाहिक जीवन इससे प्रभावित हो रहा है।

सेक्स का सत्यानाश  | Sexual weakness and how to cure it 

नपुंसकता, स्वप्नदोष, धातु दोष आदि ऐसी समस्याएं हैं जो वैवाहिक जीवन को बहुत अधिक प्रभावित करती हैं। असंयमित भोजन या शरीर में पोषक तत्वों के कारण या अन्य गलत आदतों से पुरुषों को दुर्बलता या कमजोरी की परेशानी होने लगती है।
“अमृतम” के इस आलेख में आज हम आपको बताने जा रहे हैं, गुप्त रोग नाशक
100% आयुर्वेदिक ओषधि के बारे में, जिसे बनाया है 45 से ज्यादा जड़ीबूटियोंको मिलाकर, जिसके उपयोग से 8 प्रकार के गुप्त रोग एवं यौन समस्या से बहुत जल्द मुक्ति पा सकते हैं।
आंवला मुरब्बा– जिन लोगों को अत्याधिक स्वप्नदोष होने की समस्या है,उनके लिए यह बहुत लाभदायक है। 3 महीने तक नियमित इसके सेवन से सहवास शक्ति धीरे-धीरे बढ़ती जाती है।
सेब मुरब्बा –  यौन रोग नाशक। यह एक तरह से अंदरूनी सेक्स क्षमता को बढ़ाता है।
अश्वगंधा – वीर्य को ताकतवर बनाकर शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा दिलाता है।
सोंठ — उदर रोगों की यह रामबाण औषधि शरीर की कमजोरी को दूर करती है और यौन शक्ति वृद्धिकारक है।
छुहारे — इससे यौन इच्छा और काम/सेक्स करने की शक्ति बढ़ती है।
इमली बीज  — वीर्य के जल्दी गिरने के रोग तथा सेक्स करने की ताकत में बढ़ोतरी करता है।
कौंच का बीज  एक अदभुत ऊर्जावान ओषधि इससे वीर्य गाढ़ा हो जाता है और नामर्दी दूर होती है।
तालमखाना — यौन सम्बन्धी कमजोरी, वीर्य का जल्दी गिरना,शिथिलता, कामेच्छा की कमी जैसे रोग को खत्म कर देता है।
जायफल — यौन क्षमता में अभूतपूर्व वृद्धिदायक है।
अकरकरा — वीर्य का पतलापन दूर होता है।
केसर –शिश्न (लिंग) का ढ़ीलापन दूरकर नामर्दी मिटाता है।
इलायची – शरीर को ताकतवर बनाकर  वीर्य को गाढ़ा करे।
तुलसी – अंदरूनी ज्वर एवं प्राकृतिक यौन दुर्बलताओं को जड़ से मिटाये।
सफेद मुसली — नपुंसकता, स्वप्नदोष, धातु दोष आदि गुप्त रोगों का नाश करता है। सेक्स पॉवर बढ़ाता है।
गोखरू – सेक्स कार्य में अत्यंत शक्तिदायक ओषधि।
पिपली – इससे वीर्य में वृद्धि होती है।
द्राक्षा (मुनक्का) — पेट के सभी प्रकार के रोग, स्वप्नदोष, शीघ्रपतन आदि रोगों को दूर करके शरीर को मजबूती प्रदान करता है।
सालम मिश्री  – यह वीर्य को ताकतवर बनाता है तथा सेक्स शक्ति में अधिकता लाता है। टाइम लिमिट बढ़ाये।
वंग भस्म – नपुंसकता (नामर्दी) रोग दूर करने में चमत्कारी।
स्वर्ण भस्म — नये वीर्य और रक्त के निर्माण कर कड़कपन लाने में सहायक।
मुलेठी — वीर्य की मात्रा बढाकर तृप्ति प्रदान करने में सहायक।
शुद्ध शिलाजीत – नवीन शुक्राणुओं का निर्माण कर वीर्य में बढोत्तरी करता है। 40 से अधिक उम्र वालों के लिए श्रेष्ठ।
उपरोक्त के अलावा इसमें 14 और भी घटक द्रव्य हैं, जो यौन शक्ति बढ़ाकर रग-रग में ऊर्जा-उमंग का संचार कर पारम आनंद की प्राप्ति में सहायता करते हैं। सेवन विधि तथा जड़ीबूटियों की मात्रा आदि की जानकारी पिछले ब्लॉग में दी जा चुकी है। बी फेराल गोल्ड माल्ट व कैप्सूल यदि यौन दुर्बलताओं को जड़ से दूर करने का संकल्प हो, तो इन दोनों एक साथ मिलाकर 1 से 2 माह तक सेवन करें। यह 100 फीसदी हर्बल मेडिसिन है। बीमारी को जड़ से मिटाने और  रिजल्ट आने में थोड़ा समय जरूर लगता है क्यों की जब तक अंदर की कोशकाएँ, नाड़ियाँ मजबूत नहीं होंगी,तब तक यह यौन विकार ठीक नहीं हो सकता। बी फेरालअंदरूनी रूप से शरीर को निरोगी बनाता है, जिसमें थोड़ा वक्त लगता है। जिनको धैर्य हो, जिसको हमेशा-हमेशा के लिए गुप्त रोग या यौन समस्या से छुटकारा चाहिए उनके लिए यह स्थाई इलाज है। जल्दवाजी वाले या जिन्हें एक घंटे या एक-दो दिन में तत्काल रिजल्ट चाहिए वे लोग न मंगाए।
काम की कामुक जानकारी और बी फेराल के बारे में में विस्तार से जानने के लिए हमारी वेबसाइट सर्च करें

RELATED ARTICLES