बालों के लिए हर्बल मेडिसिन

जिनकी बालों की जड़ें बिल्कुल कमजोर 

हो चुकीं हों, वे जरूर पढ़ें

जब सभी प्रयत्न, जतन करने के बाद भी

केशपतन यानि बालों का झड़ना, टूटना बन्द न हो, तो समझो, शरीर में अंदरूनी कोई तकलीफ है, जिसे पकड़ नहीं पा रहे हैं। लगातार पाचनप्रणाली की विकृति, चयापचय/मेटाबोलिज्म की खराबी से
शरीर में दिनों दिन इम्युनिटी सिस्टम बिगड़ जाता है। समय पर भूख न लगने और गैस बनने से भी अनेक बीमारियां पैदा हो जाती हैं।
इसका दुष्प्रभाव यह होता है कि खोपड़ी बहुत जल्दी केशों से खाली होने लगती है। इसलिए बालों की जड़ों को मजबूत बनाने के लिए उदर रोगों से बचना चाहिए। जरूरी पोषक तत्व, विटामिन, केल्शियम की कमी से भी शरीर में अनेकों विकार पनपने लगते हैं।

विटामिन्स जरूरी है-

बालों के लिए विशेष “विटामिन बी“ के ये अवयव मस्तिष्क तथा सिर की में जड़ों में आई गिरावट एवं मेलानोसाइट्स उत्पादन की न्यूनता को रोक देते हैं ।
लम्बे, घने, काले केश महिलाओं को सुन्दर बनाते हैं। बालों में बला का आकर्षण भी आभूषण से कम नहीं होता।

बालों का देशी इलाज-

आयुर्वेद के पुराने ग्रंथों जैसे
 
【】भावप्रकाश निघण्टु 【】वनोषधि दर्पण
 
【】वनराज निघंटु 【】दुर्लभ जड़ीबूटी
के अनुसार निम्नलिखित ओषधियाँ शरीर में अंदरूनी रूप से रोगप्रतिरोधक क्षमता/इम्युनिटी पॉवर में वृद्धिकारक हैं।
 
■ सेव मुरब्बा,
■ आँवला मुरब्बा,
■ बेल मुरब्बा, ■ हरड़ मुरब्बा,
■ गुलकन्द, एवं
■ बादाम, ■ अन्जीर
■ चिरौंजी ■ काली किसमिस
■ शुण्ठी ■ मधुयष्ठी
■ पिप्पली ■ मारीच
■ जीरा ■ अजमोद
■ दालचीनी आदि
इसके अलावा बालों की जड़ों को मजबूती देने वाली 21 जगत विख्यात प्राकृतिक जड़ीबूटियों का विवरण इस प्रकार है --
【】त्रिफला 【】चिरौंजी 【】बादाम
【】बालछड़ 【】हरश्रृंगार 【】ब्राह्मी
【】भृंगराज 【】गेहूं सत्व 【】दूर्वा
【】सागौन बीज 【】सीताफल
उपरोक्त सभी हर्बल मेडिसिन के मिश्रण से

कुन्तल केयर हर्बल हेयर माल्ट बनाया है, जो

झड़ते,टूटते बालों के लिए सुनिश्चित सम्पूर्ण चिकित्सा है ।
 
कुन्तल केयर माल्ट अमृतम आयुर्वेद की अति प्राचीन पद्धति से अनुभवी व आधुनिक चिकित्सकों की देख-रेख में निर्मित  किया जाता है।
√  “रसतन्त्रसार“,  √ “आयुर्वेद सार संग्रह”
√ “मदनपाल निघंटु” √ “चरक सहिंता”
आदि आयुर्वेद ग्रंथो: के अनुसार माल्ट (अवलेह)  के निर्माण की प्रक्रिया अति जटिल
होने के कारण इसको बनाने में 1-3 माह तक का समय लग जाता है।

पाचन तन्त्र करें मजबूत --

कुन्तल केयर माल्ट शरीर की अंदरूनी बीमारियों को दूर कर पाचनप्रणाली को ठीक करता है। इसके अलावा निम्नांकित केश रोगों में भी फायदेमंद है ।
{} सिरदर्द {} खालित्य यानि गंजापन
{} बालों का झड़ना {} केशपतन
{} रूसी-खुजली {} बालों का पतला होना
{} कीड़ा लग जाना {} बालों का लगातार टूटना
{} बालों का दोमुहें हो जाना
{} बालों का असमय सफेद होना
{} बार-बार जुएं पड़ना
{} खारे/बोरिंग व प्रदूषित पानी से बाल धोने के कारण होने वाले अनेक केश रोग और भी अनेक केशविकारों का नाश करता है।

बालों के लिए हर्बल मेडिसिन --

जब बालों को बचाने के लिये सभी तरह का इलाज करने के बाद भी यदि कोई फायदा न दिखे, तो एक बार "कुन्तल केयर हर्बल हेयर माल्ट" का उपयोग जरूर करें ।
 
सेवन विधि - 2 या 3 चम्मच सुबह खाली पेट
तथा रात्रि में सोते समय गुनगुने दूध या जल से
2 से 3 माह तक नियमित लेना इसलिए जरूरी है, ताकि कमजोर जड़े मजबूत और स्ट्रांग हो जाएं।
बालों को तेजी से बढ़ाने वाली अन्य आयुर्वेदिक ओषधियाँ --
रूसी,खोंची,झड़न मिटाये
'7' दिनों में असर दिखाये
■ कुन्तल केयर हर्बल हेयर ऑयल,
■ कुन्तल केयर हर्बल हेयर शेम्पो,
■ कुन्तल केयर हर्बल हेयर स्पा,
रोगाधिकार–
● केश झड़ना 2 या 4 दिन में ही रुक जाते हैं
●● गंजापन आने से रोकता है ।
●●● उम्र से पहले बालों को सफेद नहीं होने देता ।
●●●● रूखापन, कड़ापन मिटाकर, तन की प्रकृति अनुसार बालों को मुलायम बनाता है ।

●●●●● नजर की कमजोरी एवं बार-बार होने वाले सिरदर्द को दूर करता है ।

 

 

RELATED ARTICLES